बाजार में धड़ल्ले से बिक रही है Xiaomi की नकली एक्सेसरीज़, पकड़े गए 9000 पायरेटेड प्रोडक्ट

हाइलाइट्स

साल 2020 में कंपनी ने 33.3 लाख रुपये मूल्‍य के 3,000 नकली प्रोडक्‍ट जब्‍त किए थे.
नकली ईयरफोन, चार्जर, एडप्‍टर और यूएसबी केबल ज्‍यादा बेची जा रही हैं.
नकली सामान धड़ल्‍ले से ऑनलाइन और ऑफलाइन बेचा जा रहा है.

नई दिल्‍ली. भारत में पोर्टेबल इलेक्‍ट्रोनिक्‍स और एक्‍सेसरीज (Accessories) की जबरदस्‍त मांग है. इस मांग के साथ ही बाजार में नकली उत्‍पादों की संख्‍या भी बढ़ती जा रही है. भारत में ऑनलाइन और ऑफलाइन धड़ल्‍ले से मशहूर ब्रांडों का नकली और गैर कानूनी तरीके से आयात किया गया सामान बिक रहा है. नकली सामान से न केवल कंपनियों को बड़ा नुकसान हो रहा है, बल्कि ग्राहकों को भी चपत लग रही है.

भारत में कितना नकली सामान बिक रहा है इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि कंज्‍यूमर इलेक्‍ट्रोनिक फर्म Xiaomi ने इस साल के पहले 6 महीनों में ही उसके नाम से बेचे जा रहे 9000 नकली प्रोडक्‍ट जब्‍त किए हैं. इनकी कीमत 73.8 लाख रुपये है. साल 2020 में कंपनी ने उसके ब्रांड नाम से बेचे जा रहे 33.3 लाख रुपये मूल्‍य के 3,000 प्रोडक्‍ट पुलिस की मदद से जब्‍त किए थे. पायरेटेड उत्‍पाद अब न केवल देश के बाजारों में आसानी से उपलब्‍ध है, बल्कि कोविड-19 के बाद तो इन्‍हें ई-कॉमर्स प्‍लेटफॉर्म्‍स पर भी धड़ल्‍ले से बेचा जा रहा है.

ये भी पढ़ें-  स्मार्टफोन चोरी होने पर बैंकिंग फ्रॉड से बचने के लिए जरूर करें ये काम, नहीं तो साफ हो जाएगा अकाउंट

इनमें ज्‍यादा धोखाधड़ी  
लाइव मिंट की एक रिपोर्ट के अनुसार, Xiaomi India के प्रेसीडेंट मुरलीकृष्‍णनन बी का कहना है कि कंपनी के पोर्टफोलियो में शामिल बहुत से उत्‍पादों की पायरेसी हो रही है. नकली ईयरफोन, चार्जर, एडप्‍टर और यूएसबी केबल ज्‍यादा बेची जा रही हैं. मुरलीकृष्‍णनन का कहना है कि देश के प्रमुख शहरों में ऐसे बाजार हैं जहां से नकली उत्‍पाद पूरे देश में भेजे जा रहे हैं. जेबीएल, एकेजी, हरमन कार्डोन और इनफिनिटी नाम से स्‍पीकर और बुफर्स बनाने वाली सैमसंग की इकाई हरमन ने भी इस महीने की शुरुआत में दिल्‍ली की कई दुकानों और मैन्‍यूफैक्‍चरिंग यूनिट्स से जेबीएल और इनफिनिटी के नकली स्‍पीकर्स और बुफर्स पुलिस की सहायता से बरामद किए थे.

टेकआर्क के रिसर्चर फैसल कावुसा का कहना है कि वीयरेबल्‍स और हियरेबल्‍स प्रोडक्‍ट की नकल करना बहुत आसान है. यही नहीं, इन्‍हें आसानी से चीन से मंगवाया जा सकता है. नकली सामानों की बिक्री इसलिए भी बढ़ रही है, क्‍योंकि ऑनलाइन मार्केटप्‍लेसज पर चेकिंग की कोई व्‍यवस्‍था ही नहीं है. कोई भी नकली प्रोडक्‍ट लिस्‍ट करके बेच सकता है.

ये भी पढ़ें – लोन देने वाले Apps अब नहीं छिपा पाएंगे कुछ भी, देनी होगी अपने पार्टनर बैंक्स की डिटेल

अर्थव्‍यवस्‍था को नुकसान
फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) की सितंबर 2019 में आई एक रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था को हर साल 1.17 ट्रिलियन रुपयों का नुकसान केवल 5 सेक्‍टर्स के नकली और तस्‍करी कर लाए गए सामान की बिक्री से हो रहा है. इन 5 सेक्‍टरों में कंज्‍यूमर इलेक्‍ट्रोनिक्‍स भी शामिल है.

Tags: Business news in hindi, Tech news, Tech News in hindi, Xiaomi

Sagar Rajbhar
Sagar Rajbharhttp://newsddf.com
Sagar is the founder of this Hindi blog. He is a Professional Blogger who is interested in topics related to SEO, Technology, Internet. If you need some information related to blogging or internet, then you can feel free to ask here. It is our aim that you get the best information on this blog.
- Advertisment -
RELATED ARTICLES