Duleep Trophy Final: यशस्वी जायसवाल का नाबाद दोहरा शतक, वेस्ट जोन की दमदार वापसी

हाइलाइट्स

यशस्वी जायसवाल शानदार फॉर्म में हैं
वेस्ट जोन ने साउथ जोन पर कसा शिकंजा
यशस्वी जायसवाल 209 रन बनाकर नाबाद हैं

कोयंबटूर. युवा सलामी बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal) की नाबाद दोहरे शतकीय पारी से वेस्ट जोन ने दलीप ट्रॉफी (Duleep Trophy) फाइनल के पांच दिवसीय मुकाबले के तीसरे दिन शुक्रवार को साउथ जोन के खिलाफ दूसरी पारी में तीन विकेट पर 376 रन बनाकर अपनी स्थिति मजबूत कर ली. जायसवाल ने 244 गेंद की नाबाद पारी में 23 चौके और तीन छक्के जड़े. उनकी शानदार बल्लेबाजी से पहली पारी में 57 रन से पिछड़ने के बाद वेस्ट जोन ने शानदार वापसी करते हुए दिन का खेल खत्म होने तक 319 रन की बढ़त कायम कर ली और उसके सात विकेट शेष है.

जायसावल ने इस दौरान तीसरे विकेट के लिए श्रेयस अय्यर (71) के साथ 169 और चौथे विकेट के लिए सरफराज खान (नाबाद 30) के साथ 58 रन की अटूट साझेदारी कर टीम को मजबूती प्रदान की. इससे पहले साउथ जोन ने दिन की शुरुआत सात विकेट पर 318 रन से की लेकिन इसमें सिर्फ नौ रन के इजाफे के साथ टीम की पूरी पारी सिमट गई.

यह भी पढ़ें:‘मैंने दो वर्ल्ड कप फाइनल खेले लेकिन ट्रॉफी नहीं जीत सकी…’ विदाई मैच खेलने से पहले दिग्गज गेंदबाज का छलका दर्द

Yashasvi Jaiswal Double Hundred: यशस्वी जायसवाल का धमाल… दलीप ट्रॉफी फाइनल में ठोकी डबल सेंचुरी, रचा इतिहास

जायसवाल ने सकारात्मक शुरुआत की
पहली पारी में महज एक रन बनाने वाले जायसवाल ने दूसरी पारी में सकारात्मक शुरुआत करते हुए तेज गेंदबाज बासिल थंपी और सीवी स्टीफन के खिलाफ तेजी से रन जुटाए. उन्होंने पहले विकेट के लिए प्रियांक पंचाल (40) के साथ पांच रन प्रति ओवर के हिसाब से 110 रन की साझेदारी की.

वेस्ट जोन के कप्तान हनुमा विहारी ने शानदार लय में चल रहे साई किशोर (100 रन पर दो विकेट) को आक्रमण में लगाने में देरी की. साई किशोर ने हालांकि गेंद से जिम्मा संभालते ही पंचाल को चलता किया. इसके बाद कृष्णप्पा गौतम (139 रन पर एक विकेट) ने अजिंक्य रहाणे (15) का विकेट चटकाया. कप्तानी रहाणे ने एक बार फिर बल्ले से निराश किया.

बढ़त के आधार पर जीत सकता है वेस्ट जोन
जायसवाल और अय्यर ने इसके बाद बल्लेबाजी के लिए आसान हुई परिस्थितियों का फायदा उठाते हुए स्पिनरों के खिलाफ मन मुताबिक रन बटोरे. अय्यर ने 113 गेंद की पारी में चार चौके और दो छक्के जड़े. बल्लेबाजी के लिए परिस्थिति आसान होने के बाद वेस्ट जोन दिन में एक और सत्र में बल्लेबाजी कर पारी घोषित करने की कोशिश करेगा ताकि उसके गेंदबाजों को साउथ जोन के 10 विकेट चटकाने के लिए पांच सत्र मिले. साउथ जोन को खिताब जीतने के लिए  कम से कम इस मैच को ड्रॉ करना होगा. टीम लक्ष्य का पीछा कर या पहली पारी में बढ़त के आधार पर खिताब जीत सकती है.

Tags: Ajinkya Rahane, Duleep trophy, Shreyas iyer, Yashasvi Jaiswal

Sagar Rajbhar
Sagar Rajbharhttp://newsddf.com
Sagar is the founder of this Hindi blog. He is a Professional Blogger who is interested in topics related to SEO, Technology, Internet. If you need some information related to blogging or internet, then you can feel free to ask here. It is our aim that you get the best information on this blog.
- Advertisment -
RELATED ARTICLES